राजस्थान

गुर्जर आरक्षण आन्दोलन धौलपुर में हिंसक हुआ,3 पुलिस की गाडिय़ों को आग लगाई

हिन्दुस्तान पत्रिका/जयपुर /धौलपुर/ सिकंदरा ब्यूरो रिपोर्ट 

===============================================================

गुर्जर आन्दोलन रविवार को धौलपुर में हिंसक हो गया है। वहां प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने पुलिस पर पत्थर बरसाए। प्रदर्शनकारियों ने तीन पुलिस की गाडियों को आग लगा दी है। प्रदर्शनकारियों ने हाईवे एनएच तीन पर जाम लगा दिया है। पुलिस ने भीड़ पर काबू पाने के लिए फायरिंग की। यह सायरपाड़ा के पास घटना है। गुर्जर नेता दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर पटरियों पर बैठे हैं जिससे कई प्रमुख ट्रेनों को रद्द कर दिया गया हैं या उनके मार्ग में बदलाव किया गया है। आंदोलनकारियों ने धौलपुर जिले में आगरा-मुरैना राजमार्ग को बंद करने की कोशिश की। इस दौरान उनकी पुलिस के साथ झड़प हुई।


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत दिल्ली से अभी जयपुर एयरपोर्ट पहुंच गए हैं। वे पूरा मामले पर नजर बनाए हुए हैं। स्टेट हैंगर पर मुख्यमंत्री गहलोत लगातार मुख्य सचिव डीबी गुप्ता , पुलिस डीजीपी कपिल गर्ग से फीडबैक ले रहे हैं। राज्य सरकार गुर्जर आन्दोलनकर्मियों से बातचीत करने के लिए तैयार हैं। 

वहीं दूसरी ओर, कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के नेतृत्व में गुर्जर समुदाय के लोग मलारना और निमोदा रेलवे स्टेशनों के बीच रेल पटरी को लगातार बाधित किए हुए हैं, जिसके कारण मुंबई-दिल्ली मार्ग पर रेल गाडिय़ों का संचालन बाधित है। आपको बताते जाए कि गुर्जर आन्दोलनकर्मी पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग कर रहे हैं।
 

धौलपुर के पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने बताया कि कुछ असामाजिक तत्वों ने आगरा-मुरैना राजमार्ग को बाधित कर दिया। कुछ हुड़दंगियों ने हवा में गोलियां चलाईं। इन लोगों ने पुलिस की एक बस सहित तीन वाहनों को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान हुए पथराव में चार जवानों को चोट आईं। पुलिस ने आंदोलनकारियों को खदेडऩे के लिए हवा में गोलियां चलाईं। लगभग एक घंटे बाद इस राजमार्ग पर यातायात बहाल कर दिया गया। भरतपुर रेंज के आईजी भूपेंद्र साहू ने गुर्जर समुदाय से कानून व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है।

पुलिस कर्मियों की एक टुकड़ी नैनवा के साथ-साथ भीलवाड़ा के पास एनएच 148डी पर तैनात की गई है। इस राजमार्ग को प्रदर्शनकारियों ने जाम कर दिया था।

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति (जीएएसएस) ने राज्य में राजमार्गो व मुंबई-दिल्ली रेल मार्ग पर यातायात रोककर आंदोलन शुरू किया। वे शैक्षिक संस्थानों व सरकारी नौकरियों में पांच फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे हैं।

इस घटना पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मीडिया से कहा कि कर्नल बैसला स्वयं शांति बनाए रखने की अपील लगातार कर रहे हैं। देखते हैं कि उनकी अपील के बावजूद भी यह हिंसक घटना क्यों हुई है। इसकी जांच की जाएगी।


आपको बताते जाए कि आंदोलनकारियों व सरकार के बीच अबतक वार्ता विफल रही है। राज्य के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह व आईएएस अधिकारी नीरज के. पवन ने शनिवार को जीएएसएस प्रमुख कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला से सवाई माधोपुर जिले के मलराना डूंगर के निकट बातचीत के लिए मुलाकात की।

गुर्जरों को कुछ राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) की श्रेणी में रखा गया है। जम्मू एवं कश्मीर व हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में उन्हें अनुसूचित जनजाति की श्रेणी में रखा गया है।

 

Written By

DESK HP NEWS

Hp News

Related News

All Rights Reserved & Copyright © 2015 By HP NEWS. Powered by Ui Systems Pvt. Ltd.

BREAKING NEWS
राजस्थान ; सीकर के डाबला अंडरपास में फिर फंसी सवारियों से भरी लोक परिवहन बस | राजस्थान ; पानी भरने गए युवक की तालाब में डूबने से मौत | राजस्थान ; बदमाशों ने एक आम नागरिक पर बोला हमला , विवाद में फसे कांग्रेस के नगर अध्यक्ष अमित जोशी | कामां के सरकारी चिकित्सालय में भ्रष्टाचार अपनी चरम सीमा पर, प्रसूताओं से होती है जबरन अवैध वसूली, हॉस्पिटल के हालात हुए बद से बदतर | जयपुर के आधे से अधिक इलाकों में अगले 24 घंटों तक बंद रहेंगी इंटरनेट सेवाएं | राजस्थान ; भारी बारिश होने के कारण , बाढ़ के हालात, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट | जैसलमेर ; भारतीय सेना ने जीती अंतर्राष्ट्रीय आर्मी स्काउट मास्टर प्रतियोगिता | जयपुर में लगातार बारिश होने से एक मकान ढहा , मलबे में दबे तीन लोग | राजस्थान ; अवैध शराब का पता चलने पर मौके पर पहुंची पुलिस पर लाठियों से किया हमला , मामला दर्ज | जयपुर ; शिवदासपुरा इलाके में एनीकट बांध में डूबने से दो सगे भाइयों की मौत |